बॉलीवुड

अश्लील गानों की रोकथाम के लिए निकाय बनाने की मांग

Censor board

आज कल गैर फिल्मी गानों में अश्लीलता काफी बढ़ गई है। इसी को देखते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की गई है। इस याचिका में ऐसे कंटेंट पर बैन लगाने के लिए एक निकाय के गठन (Censor Board)  की मांग की है। 

इसे लेकर, जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस जसमीत सिंह की पीठ ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय को एक नोटिश जारी करते हुए 17 मई से पहले मामले की जाँच करने का आदेश दिया है।

बता दें कि इस याचिका को प्रैक्टिसिंग लॉयर नेहा कपूर और मोहित भादु ने दर्ज करते हुए, नेहा कक्कड़ और टोनी के गाने शोना शोना, हनी सिंह के गाने सैयां जी और मखना का हवाला दिया है। 

Censor board

इस याचिका में यह चिन्ता जताई गई है कि यदि ऐसे कंटेंट को अभी नियंत्रित नहीं किया गया, तो समाज लैंगिक समानता के मामले में और पीछे चला जाएगा और महिलाओं को कभी एक सुरक्षित माहौल नहीं मिल पाएगा।

ऐसे गाने महिलाओं के प्रति दुर्व्यवहार को बढ़ावा देने के साथ ही, नशीली दवाओं और मादक पदार्थों के इस्तेमाल को भी बढ़ावा देते हैं, खासकर युवाओं के बीच। इसकी रोकथाम के लिए सख्त कदम उठाते हुए निकाय का गठन (Censor Board) जरूरी है।

यह भी पढ़ें – डायना पेंटी ने स्विमवियर में बढ़ाया इंटरनेट का पारा, यहाँ देखें बोल्ड फोटो

Share

Comment here