बॉलीवुड

इस मामले में बुरी फंसीं कंगना रनौत, अगली सुनवाई में पेश नहीं हुईं तो जारी होगा वॉरंट

Kangana Ranaut

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) आए दिन विवादों में बनी रहती हैं। कंगना रनौत के खिलाफ मशहूर गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने मानहानि का मुकदमा दर्ज किया हुआ है। इस बीच जावेद अख्तर मानहानि मामले में अब एक ताजा अपडेट सामने आया है। 

दरअसल, गीतकार जावेद अख्तर द्वारा दायर मानहानि मामले में अंधेरी के मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को अदालत में पेश होने का आखिरी मौका दिया है। अदालत ने तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर कंगना अगली सुनवाई के लिए उपस्थित नहीं होती हैं, तो उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया जाएगा।

कंगना की ओर से पेश हुए एक वकील ने कोर्ट से कहा कि कंगना देश में नहीं हैं इसलिए वह मंगलवार (27 जुलाई) को सुनवाई के दौरान मौजूद नहीं रहेंगी। उन्होंने अपनी निजी उपस्थिति से छूट मांगी।

जावेद अख्तर की ओर से पेश वकील जय भारद्वाज ने छूट का विरोध किया और जमानती वारंट जारी करने की मांग की क्योंकि कंगना किसी भी तारीख पर पेश नहीं हुई थी।

Kangana Ranaut

दोनों पक्षों को सुनने के बाद और महामारी के दौरान मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) के कारण अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट आरआर खान ने उन्हे दिन के लिए छूट की अनुमति दी। हालांकि, उन्होंने कहा कि अगर कंगना अगली तारीख पर मौजूद नहीं रहती हैं, तो उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया जाएगा।

बता दें कि जावेद अख्तर ने कंगना के खिलाफ मजिस्ट्रेट कोर्ट का रुख करते हुए दावा किया था कि उनका बयान भारतीय दंड संहिता की धारा 499 और 500 के तहत मानहानि का अपराध है। कंगना ने एक चैनल को दिए अपने साक्षात्कार के दौरान कथित तौर पर टिप्पणी की थी कि जावेद अख्तर एक “बॉलीवुड सुसाइड गैंग” का हिस्सा थे, जो “किसी भी चीज़ से बच सकते थे”। यह बात उस समय कही गई थी जब 2020 में सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच कर रही थी।

यह भी पढ़ें – आयुष्मान खुराना ने की दिग्गज एक्ट्रेस सविता बजाज की आर्थिक मदद

Share

Comment here