होम बॉलीवुड आसिफ खान की जर्नी

आसिफ खान की जर्नी

105
0

फिल्म इंडस्ट्री में कई ऐसे स्टार्स है जिन्हें लोग सिर्फ उनके चेहरे से पहचानते हैं। ऐसे ही एक्टर हैं आसिफ खान जिन्होंने अपनी एक्टिंग और काबिलियत दमदार एक अलग पहचान बनाई है। कुछ लोग आसिफ खान को ‘मिर्जापुर’ के बाबर, ‘पगलैट’ के परचून और ‘पंचायत’ के जीजा गणेश के किरदार से जरूर जानते हैं। वहीं एक्टर वेब सीरीज ‘पंचायत’ के पहले भी कई हिट सीरीज का हिस्सा रह चुके हैं। उन्होंने अपनी बेहतरीन एक्टिंग से हर रोल में दर्शकों का दिल जीता है। एक छोटे गांव से निकल, पेट भरने के लिए छोटे-मोटे काम कर और फिर फिल्म इंडस्ट्री में बड़े स्टार्स के बीच अपनी पहचान बनाना आसिफ के लिए आसान नहीं था, लेकिन उन्होंने ये कर दिखाया।

ऐसे बनाई इंडस्ट्री में पहचान
आसिफ खान जब से ‘पंचायत 3’ का ट्रेलर रिलीज हुआ है तब से लोगों के बीच जबरदस्त चर्चा में बने हुए हैं। सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है कि आसिफ ‘पंचायत’ के अपकमिंग सजीन में नए सचिव के रोल में नजर आने वाले हैं। वहीं अभी तक इन खबरों पर एक्टर ने कोई ऑफिशियल अनाउंसमेंट फैंस के साथ शेयर नहीं की है। ‘पंचायत’, ‘मिर्जापुर’ और ‘जामताड़ा’ जैसी वेब सीरीज से खूब नाम कमा चुके आसिफ को कभी गुजारे के लिए वेटर की नौकरी भी करनी पड़ती थी। वह रोजाना ऑडिशन देने जाते, रिजेक्ट होते और फिर जाते थे, लेकिन कभी हार नहीं मानी। आज एक्टर जाना माना नाम बन चुका है।

द बेटर इंडिया के इंटरव्यू में आसिफ खान ने खुलासा किया था कि उनके पिता जेके सीमेंट कंपनी में काम करते थे। वह चाहते थे कि बेटा भी सीमेंट की फैक्ट्री में ही काम करे, लेकिन 2008 में अचानक पिता की मौत के बाद एक्टर की जिंदगी में नया मोड़ आ गया। परिवार पैसों की तंगी से जूझ रहा था, जिसके कारण आसिफ खान को ईवनिंग स्कूल में शिफ्ट होना पड़ा। जब तक बड़े भाई की नौकरी नहीं लगी, तब तक आसिफ खान को घर चलाने के लिए एक टेलिकॉम कंपनी में पार्ट टाइम काम करना पड़ा। भाई की नौकरी लगने के बाद आसिफ खान ने एक्टर बनने का रास्ता पकड़ लिया। आसिफ खान को मजबूरी में एक होटल में वेटर की नौकरी करनी पड़ी। कुछ समय तक उन्होंने मॉल में भी काम किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें