बॉलीवुड

नवाबी खानदान में पैदा हुई थीं जोहरा सहगल, अपने अक्खड़पन के कारण फिल्मों में कमाया बड़ा नाम

Zohra Sehgal

अपनी जिंदादिली और एक्टिंग स्किल से जोहरा सहगल (Zohra Sehgal) ने सिनेमा के क्षेत्र में एक खास जगह बनाई। आज उनकी 109वीं जन्मतिथि है। 

जोहरा सहगल (Zohra Sehgal) का जन्म 27 अप्रैल 1912 को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में हुआ था। वह अपने सात भाई-बहनों में तीसरे नंबर पर थी। लेकिन, जब वह सिर्फ एक साल की थीं, ग्लूकोमा की वजह से उनकी एक आँख की रोशनी चली गई। हालांकि, इलाज के बाद उन्हें दिखने लगा था।

कम उम्र में ही माँ के निधन के कारण, पिता ने जोहरा की परवरिश की और क्वीन्स मैरी स्कूल में उनका दाखिला करा दिया।

बताया जाता है कि उनके पिता कम उम्र में ही उनकी शादी करना चाहते थे, लेकिन उनकी टीचर को यह पसंद नहीं था, इसलिए उन्होंने जोहरा को लगातार तीन बार 10वीं में फेल किया। 

जोहरा शुरू से ही अक्खड़ स्वभाव की थीं और देहरादून में एक समारोह के दौरान वह डांसर और कोरियोग्राफर उदय शंकर से काफी प्रभावित हुईं और इसके बाद उन्होंने खुद भी डांस सीखने का फैसला किया।

Zohra Sehgal

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद, उन्होंने 1935 से 1940 के बीच उदय के साथ जापान, यूरोप और अमेरिका जैसे कई स्थानों पर अपने कला को पेश किया और बाद में उन्हीं के ग्रुप में बतौर ट्रेनर काम करने लगी। इसी दौरान उनकी मुलाकात साइंटिस्ट, पेंटर और डांसर कामेश्वर सहगल से हुई और दोनों धीरे-धीरे एक-दूसरे के काफी करीब आ गए।

दोनों के परिवार वाले इस रिश्ते के खिलाफ थे, लेकिन उन्होंने इसकी परवाह किए बगैर 1942 में शादी रचा ली। 

फिर, भारत-पाकिस्तान के विभाजन के बाद, जोहरा अपने पति के साथ मुंबई आ गईं और  थ्वीराज कपूर के थिएटर में बतौर स्टेज आर्टिस्ट काम करने लगी। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1950 में अफसर फिल्म से की।

यह भी पढ़ें – लोगों की मदद के लिए गुरमीत चौधरी ने लिया अस्पताल खोलने का फैसला

Share

Comment here