Uncategorized

दर्द का रामबाण इलाज है तेजपत्ते का काढ़ा

Bay leaf

भारतीय खानपान में तेजपत्ते (Bay leaf) का अत्यधिक महत्व है। इसका इस्तेमाल सब्जियों में स्वाद बढ़ाने से लेकर काढ़े के रूप में भी किया जाता है। 

बता दें कि तेजपत्ते में पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, सेलेनियम, कॉपर, आयरन जैसे कई औषधीय गुण होते हैं और नियमित रूप से इसके इस्तेमाल से आप अपने शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को मजबूत कर सकते हैं।

इतना ही नहीं, अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण इसका इस्तेमाल कैंसर और हृदय से संबंधित बीमारियों को दूर करने में भी किया जाता है। 

कैसे बनाएं काढ़ा?

आधा लीटर काढ़ा बनाने के लिए चार तेजपत्ता (Bay leaf), आधा चम्मच सौंफ और आधा चम्मच अजवाइन लें और इन्हें पीसकर पाउडर बना लें। 

Bay leaf

फिर, एक लीटर पानी में डालकर इसे ठीक से उबालें। जब यह उबलकर आधा हो जाए, तो पाँच मिनट तक इसे ढके रखने के बाद, खोल दें और इसमें शहद या काला नमक मिलाकर सर्व करें। 

क्या हैं फायदे

  1. तेजपत्ते का काढ़ा पीने से आपको शारीरिक दर्द से निजात मिलेगा।
  2. यह सर दर्द के लिए भी रामबाण इलाज है।
  3. यदि आपको चोट लगी है या मोच आई है, तो इससे आपको सूजन और दर्द में काफी आराम मिलेगा।
  4. नसों के खिंचाव में तुरंत काम करता है।

यह भी पढ़ें – जानिए क्या है व्हाइट फंगस, जिसे लेकर चिन्ता की लकीरें बढ़ रही हैं?

Share

Comment here